Thursday, December 17, 2009

मैं तुम्हीं से Main tumhin se

मैं तुम्हीं से प्यार करता हूँ

जान दिल सदके मगर
क्यों दूर हो ऐ हमसफ़र
मैं तुम्हीं पे आहें भरता हूँ
मैं तुम्हीं से प्यार करता हूँ

खूबसूरत हो मैंने माना
तुम पे फ़िदा है ये दीवाना
लेकिन इज़हार से डरता हूँ
मैं तुम्हीं .........

मेरी रातों का नूर तुम हो
पास हो कर भी दूर तुम हो
तुम्हीं से कहते डरता हूँ
मैं तुम्हीं .........

No comments: