Thursday, December 17, 2009

टुकडियां (1) Tukdian (1)


मेरे नन्हो मेरे मुन्नो
तुम कल के जवाहर लाल हो
देखना अपनी भारत भू का
कभी ना बांका बाल हो
Mere nanhe mere munno
tum kal ke Jawaharlal ho
dekhna apni bharat bhu ka
banka kabhi na baal ho


मेरे हाल ना तक्को लोको
रोको मैनू ना
की मैनू मेरे राह
बुलांदे ने (पंजाबी)
Mere hall na takko loko
roko mainu na
ki mainu mere
rah bulande ne (Punjabi)


मैं तुम पे फ़िदा हूँ
तुम मान भी लो ना
Main tum pe fida hun
tum maan bhi lo na


गीत मेरे आसमानों उच्चे
गीत मेरे विच सागर छ्ल्लां (पंजाबी)
Geet mere aasmanon uche
geet mere vich sagar chhalan (Punjabi)


किसमत का तमाशा है
जीना यहां मुश्किल है
मरना भी ना आसां है
Kismat ka tamasha hai
jeena yahan mushkil hai
marna bhi na aasan hai


आज खिली है मन की बगिया दिल की कली मुसकायी
छोड़ के सारे दर दीवारें पास तुम्हारे आई
Aaj khili hai man ki bagia dil ki kali muskai
chhod ke sare dar diwaren paas tumhare aai


मेरे ज़ज्बातों की जहां कोई कीमत ही नहीं
तेरी रूपोश ज़वानी कों वहाँ सिक्कों से तोला जाए गा
Mere zazbaaton ki jahan koi kimat hi nahin
teri rooposh jawani ko vahan sikkon se tola jayega


मुझे जब भी तेरा ख़याल आता है
इक शम्मा सी जलती है
इक शोला सा भड़क जाता है
Mujhe jab bhi tera khayal aata hai
ik shamma si jalti hai
ik shola sa bhadak jaata hai


इक याद तेरी मैं मर ना सका
मुश्किल है मगर यूँ जीना भी
Ik yaad teri main mar na saka
mushkil hai magar yun jeena bhi


साजे दिल कहां दोस्तो
जिस पे मैंने गीत प्यार के बुने
Saaje dil kahan hai dosto
jis pe maine geet pyar ke bune


पल दो पल के रिश्ते सारे
पल दो पल का मेला
कौन किसी का जीवन साथी
मैं हूँ अकेला
Pal do pal ke rishte sare
pal do pal ka mela
kaun kisi ka jeevan saathi
main hun akela


No comments: